Ads Top

Latest in Sports

Home Ads

आम औरत बड़ी शख़्सियत - Great women of my life - hindi article - women's day special

March 05, 2018
मेरे जन्म की कहानी ज़रा अजीब ही है। पूरी फ़िल्मी ही है। कुछ हालतों के चलते यह नौबत आ गई कि डॉक्टर साहब बोल पड़े कि बच्चे और माँ में से ...
0 Comments
Read

Fir hum mile nahin

September 17, 2017
बैठा हूँ सिरहाने, लेटा हूँ गोद में, ज़ुल्फ़ों की छाँव में, वक्त रुका सा है, रेशम रेशम एहसास, जो मेरे चेहरे पर, भँवरे भरी लटें, उनकी...
0 Comments
Read
Powered by Blogger.